एक प्यार ऐसा भी: मरने के बाद भी बजुर्ग दंपति का नहीं छूटा साथ, दोनों की एकसाथ उठी अर्थी

आपने अपने जीवन में प्रेम और प्यार की ना जाने कितनी कहानी सुनी होंगी, जिनमे कुछ प्यार तो जीवन में ज्यादा नहीं चल पाते और कुछ तो मुश्किल से एक महिना भी नहीं. लेकिन आज हम आपको एक ऐसे पति पत्नी के अनमोल प्रेम की सच्ची घटना बताने जा रहे हैं जिसे सुनकर आप आश्चर्यचकित रह जाएंगे। इन पति पत्नी की अनमोल प्रेम कहानी कुछ ऐसी है जिसके बारे में जानकर आपकी आंखे भी भर आएगी

दोस्तों वास्तव में यह घटना मध्यप्रदेश के मुरैना जिले की है, जहां पर बुजुर्ग पति पत्नी एक साथ रहते थे। लेकिन आप सोचेंगे की इसमें ऐसे किया बात है तो चलिये जानते है, दोस्तों इसमें सबसे कमाल की बात यह है कि जिस दिन से वो एक दुसरे से मिले कभी अलग नाही हुए और यहाँ तक की जब उन्होंने अपने जीवन की अंतिम सांसे भी एक साथ ली।

बताया गया है की इन दोनों में इतना गहरा और सच्चा प्यार था कि लोग सोच रहे थे कि इन दोनों ने अपने प्राण त्यागने के समय भी एक दूसरे का साथ नहीं छोड़ा और एक साथ स्वर्ग सिधार गए। बता दें कि 85 वर्ष के भागचंद जाटव अब इस दुनिया में नहीं है। जब वह जीवित थें, तब उन्हें एक बीमारी थी। बीमारी को मद्देनजर रखते हुए उनके सभी बेटों ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कर दिया लेकिन डॉक्टर उन्हें बचा नहीं पाए।

उनके मरने के ठीक 2 घंटे बाद उनकी मां भी स्वर्ग सिधार गई पर यह बात उनके सभी बेटों को पता नहीं थी और जब सभी बेटों ने अपने पिता के मृत शरीर को घर लाया तब उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। उन्होंने देखा कि पति की मौत की खबर सुनकर उनकी बूढ़ी मां भी स्वर्ग सिधार गई।

सभी बेटो ने बड़े ही दुख से अपने माता-पिता दोनों के शरीर को अग्नि दी। एक तरफ तो सभी यह सोचक्र दुखी थे की कैसे एक ही झटके में उन्होंने अपने माता-पिता दोनों को खो दिया और साथ ही दूसरी तरफ इस बात पर खुश भी थे कि वे दोनों बस कुछ घंटे के अंदर ही स्वर्ग सिधार गए। और बुढापे में किसी से जयादा सेवा भी नहीं करवाई.

इस घटना को देखते हुए वाकई में कहा जा सकता है कि इन दोनों बुजुर्ग पति पत्नी के बीच सच्चा और अनमोल प्रेम ही था। उनके बेटों का कहना था की माता पिता के बीच कभी भी कोई लड़ाई झगड़ा नहीं होता था. माता-पिता की बीच इतना प्यार था कि वह कहीं भी कभी भी जाते तो एक ही साथ जाते। उन्होंने हमेशा शादी के बाद की जिंदगी एक साथ बिताई और मरने के बाद की जिंदगी भी वह स्वर्ग में एक ही साथ बिताएंगे। और मरते दम तक भी एक दुसरे से जुदा नहीं हुए.


Posted

in

by

Tags: