बेहद गरीब परिवार से आने वाले ये 5 क्रिकेटर्स पहुंचे हैं कामयाबी के शिखर, कभी कभी नहीं मिलता थी दो वक्त की रोटी

दोस्तों आप सभी हमारे भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ियों के बारे में तो जानते ही होंगे। ये खिलाड़ी हमेशा अपने खेल और अपनी निजी जिंदगी को लेकर चर्चा में रहते हैं। दोस्तों भारतीय क्रिकेट टीम में कुछ खिलाड़ी ऐसे भी हैं जो गरीबी के बीच बड़े हुए हैं। इन खिलाड़ियों ने अपने जीवन में बहुत कठिनाइयाँ और संघर्ष किए हैं। आज हम आपको उन 5 खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं। तो आइए जानते हैं इन खिलाड़ियों के बारे में।

रवींद्र जडेजा।

RAVINDRA JADEJA

रवींद्र जडेजा को आप सभी अच्छी तरह से जानते हैं। भारतीय क्रिकेट टीम में रवींद्र की बड़ी भूमिका है और उनकी लोकप्रियता भी काफी ज्यादा है। लेकिन दोस्तों क्या आप जानते हैं कि रवींद्र का बचपन गरीबी में बीता। उसके पिता एक सिक्युरिटी गार्ड थे और उसकी माँ एक नर्स थी। वह सरकारी क्वार्टर में रहते  था। उन्होंने अपने जीवन में कई कठिनाइयों और संघर्षों के माध्यम से सफलता हासिल की है।

एमएस धोनी।

MS DHONI

इस सूची में दूसरे स्थान पर एक प्रसिद्ध भारतीय क्रिकेटर एमएस धोनी हैं। एमएस धोनी को कौन नहीं जानता। न केवल भारत में बल्कि अन्य देशों में भी उनकी लोकप्रियता बहुत अधिक है। एमएस भी अपने जीवन में काफी कठिनाइयों और संघर्षों से गुजरा है। आपने उनकी बायोपिक ‘एमएस धोनी’ तो देखी ही होगी. उनके पिता पिच क्यूरेटर थे और एमएस टिकट कलेक्टर के रूप में भी काम करते थे। उन्हें अपने जीवन में इतनी सफलता मिली है कि उन्होंने इतना संघर्ष किया है।

भुवनेश्वर कुमार।

BHUBANESWAR KUMAR

तीसरे नंबर पर भुवनेश्वर कुमार हैं। उत्तर प्रदेश के एक गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने एक साक्षात्कार में अपने संघर्ष का खुलासा किया। एक समय उनके पास क्रिकेट खेलने के लिए अच्छे जूते नहीं थे। उनका बचपन गरीबी में बीता। लेकिन अब उन्होंने दुनिया भर में अपना नाम बना लिया है।

उमेश यादव।

UMESH YADAV

चौथे नंबर पर गेंदबाज उमेश यादव हैं। उमेश के पिता एक कोयला कारखाने में काम करते थे। उनके पिता ने परिवार को सही भोजन उपलब्ध कराने के लिए कड़ी मेहनत की। उसके परिवार को दो वक्त का खाना खाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ती है। उमेश ने आज अपने संघर्षों और मुश्किलों से कामयाबी हासिल की है।

हरभजन सिंह।

HARBHANJAN SINGH

सूची में सबसे नीचे भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह हैं। हरभजन सिंह ने भारतीय क्रिकेट टीम में अपना नाम बनाया है और उनकी लोकप्रियता काफी ज्यादा है। हालांकि, हरभजन बचपन में गरीबी में रहे और अपनी खराब आर्थिक स्थिति के कारण उन्होंने ट्रक ड्राइवर बनने का फैसला किया। हालांकि, अपनी कड़ी मेहनत और संघर्ष के कारण वह भारतीय क्रिकेट टीम के लिए खेलने में सफल रहे।


Posted

in

by

Tags: