दिमाग लगाकर बतायो तस्वीर में हाथी के कितने पैर है – 99% लोग हो चुके है फेल

जानने के लिए आगे पढ़ें…

सोशल मीडिया पर वायरल हाथी की तस्वीर लोगों के लिए रहस्य बन गई है।  कई लोगों के लिए इस पहेली को सुलझाना नामुमकिन है।  दरअसल, इस हैरान कर देने वाली तस्वीर में हाथी के कितने पैर हैं, इस सवाल का जवाब सभी के लिए दिलचस्प है।

ऑप्टिकल इल्यूजन की तस्वीरें अक्सर सोशल मीडिया पर वायरल होती रहती हैं।  लोग इस प्रकार के प्रकाशिक भ्रम की ओर आकर्षित होते हैं।  इन्हीं हाथियों में से एक की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब ट्रेंड कर रही है।

इसे बनाने वाले कलाकार ने बड़ी चतुराई से लोगों को सोचने पर मजबूर कर दिया।  इस फोटो में हाथी का एकमात्र दाहिना पैर उसका पिछला बायां पैर है।  केवल वह पैर सही ढंग से बना है।  हाथियों के पैरों की तलाश करते हुए कई लोगों ने सिर हिलाना शुरू कर दिया लेकिन फिर भी सही जवाब नहीं दे पाए।

इस तस्वीर में हाथी के कितने पैर हैं, इस सवाल का जवाब देना लगभग असंभव है।  कुछ लोग इसका उत्तर 4 के रूप में देते हैं और अन्य इसे 5 पैरों वाले हाथी के रूप में वर्णित करते हैं।  आप भी एक बार इस तस्वीर को देखिए और देखिए इस तस्वीर में आपको हाथी के कितने पैर दिखाई दे रहे हैं।

अगर आप फोटो को गौर से देखेंगे तो आपको पता चलेगा कि हाथी के बाकी पैर पूरी तरह से नहीं बने हैं।  कलाकार ने बड़े करीने से अपने पैरों को काटा और मूल पैरों के बीच पैरों की छवियों को ध्यान से रखा।  इस भ्रम के कारण, चित्र में हाथी के पैरों की संख्या निर्धारित करना बहुत कठिन है।  हालांकि फोटो में दिख रहे हाथी के सिर्फ 4 पैर हैं, लेकिन भ्रम की वजह से उन्हें गिनना बहुत मुश्किल हो गया है।

हमारी आंखें दिन भर में बहुत सारी दृश्य उत्तेजनाएं लेती हैं और यह सुनिश्चित करने के लिए कि हमारे दिमाग में दृश्य जानकारी का भार नहीं है, वे अक्सर शॉर्टकट लेते हैं, अंतराल को भरते हैं या पिछले अनुभव के आधार पर एक छवि बनाते हैं। अधिकांश भाग के लिए, ये शॉर्टकट  हमारे लिए अच्छा काम करते हैं और हम उन्हें कभी नोटिस नहीं करते हैं।

अपवाद तब होता है जब हम एक ऑप्टिकल भ्रम देख रहे होते हैं।  ऑप्टिकल इल्यूजन इन शॉर्टकट्स का फायदा उठाते हैं और हमारे दिमाग को बेवकूफ बनाते हैं ताकि किसी छवि की हमारी धारणा वास्तविकता से मेल न खाए।  ऑप्टिकल भ्रम हमें धोखा दे सकते हैं, लेकिन वे वास्तव में बहुत कुछ प्रकट करते हैं कि हमारी दृश्य प्रणाली कैसे काम करती है।


Posted

in

by

Tags: