सहेली के पति के प्यार में दीवानी हुई थी स्मृति ईरानी, धो’खा देकर कर ली थी शादी

सहेली के पति के प्यार में दीवानी हुई थी स्मृति ईरानी, धो’खा देकर कर ली थी शादी

बेशक आज दुनिया उन्हें राजनीति के लिए जानती है लेकिन एक जमाना था जब उनकी छवि घर संभालने वाली बहू की थी। 23 मार्च को स्मृति का जन्मदिन होता है। उनका जन्म साल 1976 को दिल्ली में हुआ था। टीवी सीरियल आ,तिश से अपने करियर की शुरुआत करने वाली स्मृति हम हैं कल आज और कल, कविता और क्योंकि सास भी कभी बहू थी जैसे सीरियल्स में काम कर चुकी हैं लेकिन क्या आपको पता है स्मृति टीवी की दुनिया में आने से पहले क्या करती थीं।

क्योंकि सास भी कभी बहु थी कि तुलसी यानी स्मृति ईरानी को आज की तारीख में कौन नही जानता!स्मृति ईरानी आज एक जाना माना नाम है,पर एक समय ऐसा भी था की स्मृति ईरानी को कोई जनता भी नहीं था!स्मृति की आँखों में शुरआत से ही बस एक सपना था,की मॉडलिंग करे,और दुनिया उनकी दीवानी हो, स्मृति ईरानी का शादी से पहले नाम स्मृति मल्होत्रा था,जब पढ़ाई पूरी कर लगभग 20-22 की उम्र में वो मुंबई आई.

पर स्मृति का मुंबई आना और मॉडलिंग करना इतना आसान नहीं था,इसके लिए उन्हें अपना घर छोड़ना पड़ा,क्यूंकि उनके घर वाले उन्हें मॉडलिंग के लिए मुंबई भेजना नहीं चाहते थे.पर स्मृति ने अपना सपना पुरे करने की ठान ली,और घर छोड़ दिया,और आज स्मृति इरानी अभिनय से लेकर राजनीती तक अपनी पकड़ मजबूत बना चुकी है,और उन्होंने अपना घर भी बसा लिया है ।

मुंबई आने के बाद स्मृति की राह आसान नहीं थी,और मुंबई में बिना किसी जान पहचान के मॉडलिंग ऑफर मिलना भी मुश्किल था, शुरूआती समय में स्मिर्ति ने एक रेस्टुरेंट में काम किया,लोगो की झूटी टेबल साफ़ की,और दूसरी तरफ वो बॉलीवुड में अपनी जगह बनाने के लिए प्रयास करती रही ।

वहीं पर स्मृति मल्होत्रा की पहचान एक बेहद रईस पारसी महिला से हुई और दोनों अच्छे दोस्त बन गये कहा जाता है की इस महिला का नाम मोना ईरानी था जोकि एक बहुत ही अमीर और पैसों वाले खानदान की बहु थी,वह स्मृति को बहुत सम्मान देती थी,जब कभी फ्लैट के किराए के पैसे नहीं होते थे तब मोना ही उनसे कहती थी के तुम मेरे घर चलो,पर मोना को नहीं पता था की उनकी दरिया दिली उनका घर उजाड़ देगी,मोना के पति फ़िरोज़ शाह गोदरेज के भांजे जिसका टाटा खानदान में शादी हुई थी,

नकी गोवा, मुम्बई, नवसारी और अहमदाबाद जैसे शहरों में करोडो की प्रॉपर्टी थी,अपनी ही सहेली मोना के पति जुबिन ईरानी की तरफ स्मृति की नजदीकियां बढ़ती गयी, समय बीतता गया और धीरे धीरे स्मृति और जुबिन इतने करीब आ गये की मोना की बसी बसाई गृहस्ती उ’जड़ गयी!

वहीँ दूसरी तरफ मोना के पति जुबिन भी अभिनेत्री के प्रेम पागल हो गए,और अपनी पत्नी से दूर होते चले गए, और अंत में दोनों इतने करीब आ गये के जुबिन नें मोना को तलाक दे दिया,

फिर इसके बाद जुबिन नें स्मृति से साल 2001 में शादी भी कर ली जिसके बाद स्मृति मल्होत्रा बन गयी स्मृति ईरानी, बताया गया है की शादी के बाद मोना को घर से निकलना पड़ा और उनका यह गृहस्थ जीवन ब”र्बाद हो गया ।

2001 में उन्होंने पारसी एंटरप्रेन्योर जुबिन ईरानी से शादी कर ली। अक्टूबर 2001 में उन्होंने बेटे को जन्म दिया, जिसका नाम जोहर रखा। दो साल बाद यानी सितंबर 2003 में वे बेटी जोइश की मां बनीं।जुबिन की पहली पत्न्नी का नाम मोना था। मोना और स्मृति पहले से ही दोस्त थे। जुबिन और मोना के अलग होने के बाद जुबिन ने स्मृति से शादी की।

आज स्मृति ईरानी ने छोटे परदे और मॉडलिंग को अलविदा कह दिया है,और वो राजनीती में आ गयी है,वर्तमान में वो बीजेपी की पार्टी में है,और भारत सरकार के अंतर्गत कपड़ा मंत्री तथा महिला एवं बाल विकास मंत्री हैं और इससे पूर्व वे मानव संसाधन विकास मंत्री रह चुकी हैं।

 

स्मृति ने होली चाइल्ड ऑक्जिलियम स्कूल से 12 क्लास तक पढ़ाई की है। इसके बाद उन्होंने स्कूल ऑफ लर्निंग (पत्राचार), दिल्ली विश्वविद्यालय में एडमिशन लिया था। पिता की मदद और कुछ पैसे कमाने के लिए स्मृति ने होटल में वे,,ट्रे,,स तक का काम किया। इसी दौरान किसी ने उन्हें मॉडलिंग में किस्मत आजमाने का सुझाव दिया और इस तरह वे दिल्ली से मुंबई आ गईं।

1998 में स्मृति ने मिस इंडिया पेजेंट फाइनलिस्ट में अपनी जगह बनाई। इसी साल वह मीका सिंह के एलबम ‘सावन में लग गई आग’ के गाने ‘बोलियां’ में परफॉर्म करती नजर आईं। एकता कपूर के शो ‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’ से वह घर-घर में एक जाना-पहचाना चेहरा बन गईं। हालांकि पहले एकता कपूर की टीम ने उन्हें इस रोल के लिए रिजेक्ट कर दिया था।

pinal

Leave a Reply

Your email address will not be published.