चूहों ने कुतर डाले बैग में रखें 2 लाख रुपये, पेट का ऑप’रेशन कराने के लिए किसान ने जुटाए थे पैसे

आज की महंगाई में पैसे जोड़ना आसान बात नही है। इंसान बहुत ही मुश्किल से आज के दौर में पैसे कमाता है और अपने बुरे वक्त के लिए उसे जोड़ सहेज कर रखता है। अगर ऐसे में उसके धोखाधड़ी या चोरी हो जाये। उसके पैसे कही गुम हो जाये तो उसपर बीतने वाले कष्ट की कोई सीमा नही रहती।

ऐसे नुकसान के कई मामले अपने जरूर देखे व सुने होंगे पर आज जो हम आपको बताने जा रहे वो बात इन सब से अलग है। ये मामला आपके होश उड़ा देगा व साथ ही आपको सतर्क भी करेगा। आज हम आपको बताने जा रहे है कि कैसे एक गरीब किसान की जीवन भर की जमा पूंजी चूहों द्वारा बर्बाद कर दी गई जिसको उसने अपने पेट के ऑपरेशन के जमा कर के रखा था।

ये पूरी घटना तेलंगाना राज्य के इंदिरानगर के वेमनूर गाँव का है। यहाँ के एक किसान रेड्डी नायक पेशे से एक छोटे किसान है और सब्जी बेच बेच कर उन्होंने बहुत ही मुश्किल से दो लाख रुपये अपने पेट के ऑपरेशन के लिए जमा किये थे।

इस किसान के कहे अनुसार उन्होंने कुछ राशि अपने मिलने जुलने वालो से कर्ज लिया और बाकी का इंतज़ाम खुद बहुत ही मेहनत से सब्जी बेच कर किया।उन्होंने सब पैसे अलमारी में एक कपड़े के बैग में रख दी। लेकिन जब कुछ दिन बाद उन्होंने फिर से पैसे देखने के लिए अलमारी खोली तो उनके होश ही उड़ गए।

उनकी सारी रकम पूरे दो लाख रुपये चूहों ने काट डाले। इस बात से उस बेचारे किसान का हौसला ही टूट गया। फिर भी उसने हार नही मानी और कई बैंको के चक्कर काटे पर सभी ने उसकी सहायता से इनकार कर दिया।बैंको की माने तो रिजर्व बैंक की नीति के अनुसार पुराने कटे फ़टे नोटो को बदलने का नियम है पर ऐसे चूहों द्वारा कतरे गए नोटो को बदलने का कोई विकल्प नही।

परेशान रेड्डी नायक को कुछ व्यापारिक संस्थानों ने रिजर्व बैंक हैदराबाद में इस मामले को रखने की सलाह दी है। इस मामले में अब उसकी सहायता के आसार ना के बराबर ही समझ आ रहे।


Posted

in

by

Tags: