बेटी को बुधवार के दिन क्यों नहीं भेजा जाता है ससुराल? मान्यता के पीछे छिपी है खास वजह

महिलाओं में चंद्र ग्रह प्रबल होता है. बुधवार का संबंध बुध ग्रह से होता है. बुध और चंद्र के बीच शत्रुता का भाव रहता है.

धिकतर लोग मुहूर्त के हिसाब से काम करना बेहतर समझते हैं. उनका मानना होता है कि शुभ मुहूर्त में किए गए कामों का अच्छा परिणाम मिलता है. पूजा, शादी से अलग कई लोग यात्रा की शुरुआत करते वक्त भी मुहूर्त का ध्यान रखते हैं. कुछ इसी तरह हिंदू धर्म में मान्यता है कि बुधवार के दिन बेटियों को उनके ससुराल के लिए विदा नहीं करना चाहिए. आइए जानते हैं इसके पीछे की वजह-

महिलाओं में प्रबल होता है चंद्र ग्रह
पौराणिक मान्यता के अनुसार, महिलाओं में चंद्र ग्रह प्रबल होता है. बुधवार का संबंध बुध ग्रह से होता है. बुध और चंद्र के बीच शत्रुता का भाव रहता है. यही कारण है कि बुधवार के दिन विवाहित कन्या को ससुराल के लिए विदा नहीं किया जाता है.

शास्त्रों के हवाले से यहां तक कहा गया है कि बुधवार के दिन बेटी को ससुराल विदा करने पर कोई दुर्घटना भी घट सकती है. इसके अलावा ससुराल में जाने पर उनकी तबीयत बिगड़ सकती है और परिवार में क्लेश भी बढ़ सकता है.

ऐसा करना माना जाता है शुभ
शास्त्रों के मुताबिक, बुधवार के दिन कुछ कार्य शुभ फल देते हैं. ऐसे में इस दिन खाता खुलवाना, बीमा करवाना, पैसों का लेनदेन करना, गोदाम में माल रखना शुभ होता है.

 


Posted

in

by

Tags: