“कौन बनेगा करोड़पति” के शो जीतने के बाद इस आदमी की जिन्दगी हो गयी बर्बाद, जानिए क्यों ?

वैसे तो कौन बनेगा करोड़पति में जो भी आता है, उसकी दुनिया गुलजार हो जाती है. नाम और ख्याति मिलने के साथ-साथ ढेर सारे पैसे भी मिलते हैं. इसके बाद उसकी सारी समस्याएं खत्म सी हो जाती हैं. सोनी टीवी पर आने वाले इस शो को अमिताभ बच्चन होस्ट करते हैं. सवाल-जवाब का सिलसिला शुरू होता है तो पूरा देश टीवी के सामने बैठकर उसे देखने लगता है.

लेकिन क्या आपको मालूम है कि इसी कौन बनेगा करोड़पति शो के विनर रहे सुशील कुमार की जिंदगी इस शो को जीतने के बाद बर्बाद हो गई.

करोड़ों की राशि जीतने के बाद भी सुशील आज गरीबी में जी रहे हैं. आपको बता दें कि बिहार के सुशील कुमार ने केबीसी के पांचवें सीजन में 5 करोड़ रुपए जीते थे. लोगों को लगा कि उनकी जिंदगी अब नई ऊंचाइयां चढ़ेगी, लेकिन उनके जिंदगी का बुरा वक्त KBC जीतने के बाद ही शुरू हो गया.

सुशील ने पिछले साल एक फेसबुक पोस्ट के जरिए अपनी आपबीती बतायी, जिसमें उन्होंने लिखा है कि 2015-16 के बीच उनके जीवन का समय सबसे चुनौतीपूर्ण था.

पांच करोड़ जीतने के बाद सुशील की लोकप्रियता काफी बढ़ गई थी और उन्हें महीने में कम से कम 15 दिन बिहार के किसी ने किसी कार्यक्रम में शामिल होना पड़ता था. ऐसे में पढ़ाई से धीरे-धीरे वह काफी दूर हो गए. बिना अनुभव के उन्होंने पैसों के दम पर नए नए बिजनेस करने की कोशिश की, जो कुछ देर चलने के बाद डूब गयी.

इस तरह से उनके पैसे खत्म होते चले गए. दिल्ली में जब वह अपने जेएनयू के कुछ दोस्तों से मिले तब जाकर उन्हें पता चला कि वह तो कुएं के मेंढक है और उन्हें दुनिया की ज्यादा समझ ही नहीं है. पैसे मिलने के बाद उन्हें ठगने वाले लोग भी बहुत मिले. रिश्तेदारी के नाम पर तो कभी डोनेशन के नाम पर उनसे लोग लाखों-लाख रुपया लेकर लोग चले गए. पैसे बांटने की आदत की वजह से सुशील का अपनी पत्नी से भी काफी झगड़ा होने लगा.

उनकी पत्नी अक्सर उन्हें समझाती कि उन्हें अच्छे बुरे लोगों की समझ नहीं है और वह दोनों हाथ से खुलकर पैसे खर्च कर रहे हैं,

जो भविष्य में पूरे दिन ला सकता है. नए-नए काम को शुरू करने की नासमझी ने सुशील को कभी दिल्ली तो कभी मुंबई घुमाना शुरू कर दिया. धीरे-धीरे उन्हें नशे की लत भी लग गई और वह शराब और सिगरेट में भी डूबने लगे. धीरे-धीरे उन्हें जल्द एहसास हो गया कि वह जो कर रहे हैं वह सब भटके हुए इंसान की पहचान है.

असल में इंसान को वही करना चाहिए, जिसमें उसका मन लगता है, ना कि वो जिसमें पैसे कमाने की ज्यादा संभावना दिखती हो.

टूट चुके परिवार और मतलबी दोस्तों को पहचानने के बाद सुशील की अकल ठिकाने आई है और फिर वह अपने जीवन को वापस साधारण जिंदगी की पटरी पर लाने की कोशिश कर रहे हैं. आपको बता दें कि 2011 में कौन बनेगा करोड़पति से 5 करोड़ पर जितने वाले सुशील इन दिनों एक शिक्षक की नौकरी कर रहे हैं.


Posted

in

by

Tags: