अगर आप भी करोड़पति बनना चाहते हैं तो सुबह आंख खुलते ही करे यह काम।

नमस्कार दोस्तों आज के इस लेख में आपका स्वागत है, हमेशा यह देखा गया है कि जो लोग कड़ी मेहनत करते हैं वे बहुत जल्दी सफल हो जाते हैं। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो मेहनत तो करते हैं, लेकिन किस्मत की वजह से उन्हें सफलता नहीं मिलती।

वह सफलता के लिए कड़ी मेहनत करता है, लेकिन कड़ी मेहनत के अनुसार उसे वास्तव में वह स्थान नहीं मिल पाता है जिसके वह वास्तव में हकदार है। ऐसे में आज हम आपको एक ऐसा उपाय बताएंगे जिसे अगर आप सुबह उठते ही अपना लेते हैं,

आपके बंद भाग्य का द्वार खुल जाएगा.. इस सच्चे मन, सच्ची भक्ति और अपने चरित्र और शुद्ध सोच के साथ सुबह उठते ही आपको यह उपाय करना है। यह पक्का करने वाला उपाय आपको समृद्ध करेगा और आपकी मेहनत को सफल बनाने में मदद करेगा।

आज हम आपको जो उपाय बताने जा रहे हैं वह है श्री राम भक्त हनुमान जी। इसके लिए आपको केवल सुबह के समय भक्त भगवान हनुमान का ही स्मरण करना है, लेकिन उससे पहले अपने चरित्र, आत्मा और मन को शुद्ध रखें। तब बजरंगबली के 12 नाम दिमाग में आते हैं। ऐसा करने से आपके जीवन में चल रही सभी परेशानियां दूर हो

जाएंगी ऐसा करने से आपका कोई काम नहीं होगा, जो रुकेगा। ज्योतिषी भी मानते हैं कि जो लोग इन चमत्कारी १२ नामों को याद करते हैं, वे हमेशा भगवान राम हनुमान का हाथ अपने ऊपर रखते हैं, इसका असर ग्रहों पर भी पड़ता है। आइए आपको बताते हैं उन 12 नामों के बारे में, जिन्हें आपको सुबह उठते ही याद रखना है।

यह बजरंग बली का नाम है, ऐसे में अगर आप सुबह उठते ही इन बारह नामों को एक साथ बोल दें तो उस व्यक्ति की उम्र लंबी होती है। यदि आपको भाग्य नहीं मिलता है तो सुबह उठते ही इन १२ नामों का १२ बार जाप करने से आपके बुरे कर्म होने लगेंगे। अगर आप करोड़ों की संपत्ति के मालिक बनना चाहते हैं तो धन संबंधी कोई भी कार्य करने से पहले इन नामों का जाप करें। इससे आपको दोहरा फायदा होगा।

इसी के साथ जो व्यक्ति नियमित समय पर नाम लेता है उसे पारिवारिक सुख की प्राप्ति होती है. रात को सोने से पहले झपकी लेने से दुश्मनों से बचाव होता है। इसी के साथ अगर आप कोर्ट में विवाद से जूझ रहे हैं तो ये बारह नाम आपके लिए चमत्कारी साबित होंगे. इन सबके अलावा यदि आप भोज पत्र पर इन बारह नामों को लाल स्याही से लिखेंगे तो यह आपकी सभी समस्याओं का समाधान करेगा।

आपको यह भी बता दें कि मंगलवार या गुरुवार का दिन कलियुग के देवता बजरंगबली को समर्पित है। इस दिन भगवान हनुमान की विधिपूर्वक पूजा की जाती है और हनुमान चालीसा का पाठ किया जाता है। भक्ति,

साहस और शक्ति के प्रतीक माने जाने वाले हनुमान चालीसा में 3 जोड़े और 40 चॉपियां लिखी हुई हैं इसका पाठ न केवल मंगलवार को बल्कि किसी भी दिन किया जा सकता है। इनके पाठ से भय दूर होता है तथा भूत-प्रेत आदि पिशाचों से मुक्ति मिलती है। हनुमान चालीसा में सबसे प्रसिद्ध पहला चतुर्भुज ‘जय हनुमान ज्ञान गुण सागर, जय कपिस तिहु लोक उद्गार’ है। आज हम आपको हनुमान चालीसा से जुड़े 5 रोचक तथ्य बता रहे हैं

हनुमानजी को समर्पित इस अद्भुत चालीसा की शुरुआत 2 जोड़ों से होती है जिनका पहला शब्द ‘श्रीगुरु’ है, यहां ‘श्री’ का अर्थ है माता सीता जिन्हें बजरामबली अपना गुरु मानते हैं। कवि तुलसीदास ने हनुमान चालीसा को काल की भाषा में लिखा था। तुलसीदास अपने जीवन के अंतिम दिनों तक वाराणसी में रहे।

उनके नाम पर एक घाट भी है, जिसे ‘तुलसी घाट’ कहा जाता है। तुलसीदास ने यहां प्रसिद्ध ‘संकटमोचन मंदिर’ भी बनवाया था। लोककथाओं के अनुसार, हनुमान चालीसा को सबसे पहले हनुमान ने सुना था। जब तक तुलसीदासजी ने रामचरितमानस बोलना समाप्त किया, तब तक सभी लोग जा चुके थे लेकिन एक बूढ़ा आदमी वहीं रह गया। वह शख्स कोई और नहीं बल्कि हनुमान थे। यह देखकर तुलसीदास बहुत प्रसन्न हुए और फिर उन्होंने बजरंबली के सामने 40 चालीसाएँ पढ़ीं।

हनुमान चालीसा में हनुमानजी के लिए 40 पुस्तकें लिखी गई हैं। चालीसा शब्द इन्हीं 40 अंकों से बना है। उनकी शक्ति और ज्ञान का वर्णन हनुमान चालीसा के प्रथम दस चौपाओं में किया गया है। 11 से 20 तक चौपाई भगवान राम के बारे में कहा जाता था, 11 से 15 तक चौपाई राम के भाई लक्ष्मण पर आधारित है।

पिछले चार अध्यायों में तुलसीदास हनुमानजी की कृपा की बात करते हैं।लगभग सभी लोग हनुमानजी की पूजा करते हैं लेकिन वे ज्यादातर इसे शनिवार या मंगलवार को करते हैं, लेकिन दोस्तों, इसे नियमित रूप से करने के कई फायदे हैं। दोस्तों आइए बात करते हैं हनुमानजी की चालीसा से होने वाले फायदों के बारे में।

नाम सुनते ही महावीर के पास रोग और दु:ख नहीं आएंगे। हनुमानजी का नाम लेने से ही रोग और दुख दूर हो जाते हैं। मित्रों चालीसा में सभी प्रकार की समस्याओं का समाधान दिखाया गया है। हनुमान चालीसा का वर्णन है कि जो कोई भी इसे लेता है हनुमान जी के नाम में कभी भी भूत और विघ्नों का प्रभाव दिखाने की शक्ति नहीं होती, वे किसी भी प्रकार के काले जादू से प्रभावित नहीं होते हैं।

यदि आप प्रतिदिन हनुमान चालीसा करते हैं, तो आपको सभी परेशानियों से छुटकारा मिलेगा, सभी प्रकार की कठिनाइयाँ दूर होंगी। नियमित रूप से हनुमान चालीसा का पाठ करने वाले लोगों के जीवन से नकारात्मकता दूर होती है और जीवन में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश होता है। चालीसा का नियमित पाठ दूर करता है

सभी प्रकार के भय। हनुमान चालीसा का पाठ इतना अधिक लाभकारी है कि इसके पाठ से ही जीवन में एक नई ऊर्जा का संचार होता है। आप सकारात्मक ऊर्जा से भरपूर हैं और आप एक सफल जीवन की ओर बढ़ रहे हैं। इसलिए आपको नियमित रूप से हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए।

दोस्तों प्रतिदिन चालीसा और पाठ करने से शरीर शुद्ध होता है क्योंकि यह आपके 1 में एक नई ऊर्जा पैदा करता है जो आपको शुद्ध करता है। हनुमान चालीसा के पाठ व्यक्ति के आत्मविश्वास को बहुत बढ़ाते हैं। रूप से पाठ करना चाहिए। नियमित रूप से हनुमान चालीसा का पाठ करने के कई फायदे हैं। हनुमान जी हर भक्त की मनोकामना पूरी करते हैं। हनुमानजी भी बहुत भोले हैं, वे हर भक्त की मनोकामना बहुत जल्दी पूरी करते हैं।

भगवान राम जब भी संकट में होते हैं तो हनुमानजी ने उनका संकट दूर कर दिया है। इसलिए हिंदू धर्म में हनुमान चालीसा का बहुत महत्व है। जहां व्यक्ति अकेला हो और अंधेरे में डरता हो, उसके मुंह में एक ही नाम होता है और वह है हनुमान चालीसा, क्योंकि इससे उसे नई ऊर्जा मिलती है। यदि आप मानसिक रूप से परेशान हैं,

अपेक्षित कार्य नहीं हो रहा है, व्यापार में वृद्धि नहीं हो रही है और परिवार में भी समस्या है तो हनुमान चालीसा आपकी सभी समस्याओं का समाधान है। इससे चमत्कारी लाभ प्राप्त होते हैं। हिंदुओं का मानना ​​है कि हनुमान चालीसा का पाठ करने से संकट, भय और विपत्ति अधिक समय तक नहीं टिक सकती।

ऐसे बहुत से लोग हैं जिन पर शनि का संकट है, इसलिए ऐसे लोगों को शनि की छाया दूर करने के लिए हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए। जब औरंगजेब ने तुलसीदास पर कब्जा किया तो हनुमान जी की आस्था के कारण ही उन्होंने जेल में ही हनुमान चालीसा की रचना की, जिसमें तीन दोहे और 20 चापे हैं। हनुमान चालीसा में छिपा है हनुमानजी के जीवन का सार जो पढ़कर जीवन को शक्ति और प्रेरणा देता है।

यदि आप हनुमानजी की पूजा करके उन्हें प्रसन्न करना चाहते हैं तो सबसे अच्छा उपाय है हनुमान चालीसा। इस पाठ से भूत-प्रेत जैसी अदृश्य आत्माओं के साथ-साथ तीनों नक्षत्रों के बुरे प्रभाव से बचा लिया गया है। यदि आप प्रतिदिन हनुमान चालीसा का पाठ करते हैं तो आपके जीवन में कोई संकट नहीं आएगा। राम भक्त हनुमान को धर्म पर चलने वाले सभी लोगों की मदद की जरूरत है। निरंतर जप से यह सिद्ध होता है और पवनपुत्र हनुमानजी की कृपा प्राप्त होती है।


Posted

in

by

Tags: