भारत की सबसे लंबी दूरी की ट्रेन, 9 राज्य, 57 स्टेशन और 83 घंटे का है सफर

इंडियन रेलवे की ट्रेनें अब सरपट दौड़ रही हैं| इनमें कन्याकुमारी से कश्मीर तक और पूर्वोत्तर भारत को दक्षिण भारत से जोड़ने वाली कई लंबी दूरी की ट्रेनें भी शामिल हैं| इनमें कई ऐसी ट्रेनें भी शामिल हैं| जो 12-12 राज्यों से होकर अपने मंजिल तक पहुंचती हैं|कोरोना काल में हुई मरम्मत के काम की वजह से ट्रेनों की गति पर भी असर पड़ा है|ट्रैक पर दौड़ने वाली ट्रेनों की संख्या में लगातार इजाफा किया जा रहा है|

आइए जानते हैं भारत की सबसे लंबी दूरी तय करने वाली 5 ट्रेनों के बारे में….

सबसे लंबी दूरी तय करने वाली 5 भारतीय ट्रेनें

1. गुवाहाटी-तिरुअनंतपुरम एक्सप्रेस-

यह ट्रेन असम के गुवाहाटी से केरल के त्रिवेंद्रम तक का सफर तय करती है| ये ट्रेन 64 घंटे 15 मिनट में 3552 किमी की दूरी तय करके और 50 स्टेशनों पर ठहरके अपनी मंजिल तक पहुंचती है|

2.कटरा-मैंगलोर नवयुग एक्सप्रेस-

ये भारत में तीसरी सबसे लंबी दूरी तय करने वाली ट्रेन है| जो जम्मू-कश्मीर के कटरा से चलकर मैंगलोर पहुंचती है| इस दौरान ये ट्रेन 72 घंटे 50 मिनट में 3674 किमी की दूरी तय करती है और दौरान ये ट्रेन 12 राज्यों के 67 स्टेशन पर ठहरती है|

3.न्यू तिनसुकिया-बेंगलूरु सिटी एक्सप्रेस-

न्यू तिनसुकिया-बेंगलूरु सिटी एक्सप्रेस ट्रेन असम के न्यू तिनसुकिया से चलकर 65 घंटे 55 मिनट में 3615 किमी दूरी तय कर बेंगलुरु पहुंचती है| इस दौरान ये ट्रेन 39 स्टेशनों पर रुकती है|

4.कटरा-कन्याकुमारी हिमसागर एक्सप्रेस-

ये भारत की दूसरी सबसे लंबी दूरी तय करने वाली ट्रेन है| जिसके 3782 किमी लंबे सफर को तय करने में 71 घंटे 40 मिनट का समय लगता है| ये ट्रेन माता वैष्णो देवी कटरा से चलकर कन्याकुमारी पहुंचती है|ये ट्रेन 75 रेलवे स्टेशन पर रुकती है|

5.डिब्रूगढ़ कन्याकुमारी विवेक एक्सप्रेस-

भारतीय रेल के मुताबिक ये ट्रेन भारत में सबसे लंबी दूरी तय करने वाली ट्रेनों में नंबर एक पर है| ये ट्रेन डिब्रूगढ़ से कन्याकुमारी के बीच 4247 किलोमीटर का सफर 82.50 घंटे में तय करती है| ये ट्रेन 57 स्टेशनों पर रुकती है|


Posted

in

by

Tags: