अमरनाथ गुफा की इस साल की पहली तस्वीर आई सामने, देखिए- कितना बड़ा है बाबा बर्फानी का आकार

अमरनाथ गुफा में बनने वाली

दो साल से बंद अमरनाथ यात्रा आखिरकार इस साल होने जा रही है. पवित्र यात्रा इस साल 30 जून से शुरू होगी. इसी बीच अमरनाथ गुफा में बनने वाली हर साल की शिवलिंग के आकार की पहली तस्वीर सामने आई है. इस साल अमरनाथ यात्रा पर आठ लाख से भी ज्यादा श्रद्धालुओं के पहुंचने की उम्मीद जताई जा रही है.

हाल ही में जम्मू-कश्मीर के उपराज्यaपाल मनोज सिन्हा ने श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड की बैठक की अध्यक्षता की थी. जिसमें उन्होंने कहा कि 43 दिन की पवित्र तीर्थयात्रा 30 जून को शुरू होगी. यात्रा के दौरान सभी कोविड प्रोटोकॉल का ध्यान रखा जाएगा. उन्होंने आगे कहा कि परंपरागत रूप से रक्षा बंधन के दिन यात्रा समाप्त होगी. बैठक में यात्रा को लेकर कई मुद्दों पर चर्चा की गई.

बाबा अमरनाथ बर्फानी की इस साल की पहली तस्वीर

श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड (SASB) ने ट्वीट कर बताया कि सभी भक्तों और इच्छुक यात्री अमरनाथ यात्रा 2022 के लिए रजिस्ट्रेशन 11 अप्रैल से करा सकते हैं. पवित्र अमरनाथ की यात्रा 30 जून से आरंभ होगी. 43 दिनों तक चलने वाली यात्रा का समापन 11 अगस्त, 2022 को होगा.

रजिस्ट्रेशन के प्रकार:

1. एडवांस रजिस्ट्रेशन
2. ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन
3. ग्रुप रजिस्ट्रेशन
4. NRIs रजिस्ट्रेशन
5. ऑनस्पॉट रजिस्ट्रेशन

इस तरह कर सकते हैं ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

– बाबा बर्फानी के दर्शन की इच्छा रखने वाले श्रद्धालु http://jksasb.nic.in/register.aspx वेबसाइट के माध्यम से बेहद आसानी से रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं.

– इसके अलावा हेलीकॉप्टर के जरिए यात्रा करने की चाहत रखने वाले श्रद्धालुओं को SASB मोबाइल ऐप के जरिए अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा. बता दें कि हेलीकॉप्टर यात्रा के अतिरिक्त दो मार्गों पर रोजाना हर रूट पर 10 हजार श्रद्धालु जा सकते हैं.

– मेडिकल सर्टिफिकेट के लिए www.shriamarnathjishrine.com वेबसाइट पर विजिट किया जा सकता है. इस वेबसाइट पर डॉक्टर्स और स्वास्थ्य संस्थानों की लिस्ट है.

यात्रा के जरूरी आयु सीमा

13 साल से लेकर 75 साल तक के लोग अमरनाथ यात्रा करने के पात्र हैं. हालांकि, 6 महीने से ज्यादा गर्भावस्था वाली महिलाओं को यात्रा की अनुमति नहीं है.

ये दस्तावेज बेहद जरूरी

1. यात्रा के लिए दिए गए फॉर्मेट में भरा गया एप्लीकेशन बेहद जरूरी है.
2. डॉक्टर या मेडिकल संस्थान से हासिल मेडिकल सर्टिफिकेट, जो निश्चित समय के अंदर लिया गया हो.
3. चार पासपोर्ट साइज फोटो

इन बातों पर भी दें ध्यान

– ग्रुप रजिस्ट्रेशन (समूह पंजीकरण) के लिए 5 से ज्यादा और 50 से कम लोग अप्लाई कर सकते हैं.
– प्रवासी (NRIs) श्रद्धालुओं का पंजीयन चयनित दिन और रूट के कोटा के आधार पर किया जाता है.
– प्रवासियों (NRIs) के लिए मेडिकल सर्टिफिकेट बेहद जरूरी है. अपना सर्टिफिकेट वे [email protected] मेल कर सकते हैं.
– एडवांस रजिस्ट्रेशन (अग्रिम पंजीकरण) न हो तो श्रद्धालु जम्मू और श्रीनगर में ऑनस्पॉट (मौके पर) अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं.

हर साल की शिवलिंग के आकार की पहली तस्वीर सामने आई है. इस साल अमरनाथ यात्रा पर आठ लाख से भी ज्यादा श्रद्धालुओं के पहुंचने की उम्मीद जताई जा रही है.


Posted

in

by

Tags: