ससुराल के लिए निकली दुल्हन प्रेमी को भेजती रही लोकेशन, रास्ते में ब्वॉयफ्रेंड लेकर फरार

दुल्हन आरती सहारे ने पुलिस के सामने कहा, ‘वह पहली बार विकास से दंतेवाड़ा मंदिर में साल 2017 में मिली थी. पिछले पांच साल से उससे प्यार करती थी और उसे छोड़ नहीं सकती, उसने मुझे नहीं मैंने उसे भगाया है.’ विकास ने कहा वह भी उसे चाहता है और अब उसे शादी करके घर ले जाएगा.

छत्तीसगढ़ के कांकेर में एक शादी के बाद जो हुआ वो अब तक आपने फिल्मों में ही देखा होगा. दरअसल शादी के मंडप से दूल्हा संग विदा हुई दुल्हन फिल्मी स्टाइल में रास्ते से प्रेमी के साथ फरार हो गई.

इस दौरान दुल्हन लगातार अपने प्रेमी को वाट्सएप पर लोकेशन भेजती रही. प्रेमी के पास आने के बाद दुल्हन ने बाथरूम जाने के बहाने गाड़ी रूकवाई और पीछे चल रही प्रेमी की कार में बैठकर फरार हो गई. इसके बाद दुल्हन के परिजन थाने पहुंच गए.

पुलिस ने जब दुल्हन को प्रेमी के साथ पकड़ा तो दुल्हन ने कहा कि प्रेमी ने उसे नहीं बल्कि प्रेमी को उसने अपने साथ भगाया. घटना के बाद दूल्हा और उसके घर वाले सीधे मानपुर थाना पहुंच गए क्योंकि बिना बहू लिए सीधे वापस गांव पहुंचने से परिवार को काफी शर्मिंदगी झेलनी पड़ती.

सूचना मिलते ही आसपास के इलाके की पुलिस सतर्क हो गई. नाकेबंदी के बाद दोपहर एक बजे कांकेर थाना की पुलिस ने फरार दुल्हन और उसके प्रेमी को पकड़ लिया.

दोंनों प्रेमी-प्रेमिका की पहचान दंतेवाड़ा निवासी आरती सहारे और बस्तर जिले के रहने वाले विकास गुप्ता के रूप में हुई थी. दोनों शादी करना चाहते थे लेकिन युवती का परिवार शादी के लिए तैयार नहीं था. लड़की के बालिग होते ही महाराष्ट्र के सांवरगांव के युवक से उसकी शादी तय कर दी गई.

युवती ने पिता से काफी मिन्नतें की लेकिन पिता नहीं माने जिसके बाद युवती ने पहले भी प्रेमी संग भागने कोशिश की थी लेकिन पहरेदारी की वजह से नाकाम रही. युवती ने कहा कि वह शादी के दौरान भाग न जाए इसलिए उसकी बुआ पूरे समय उसे पकड़ कर रखती थी.


Posted

in

by

Tags: