पति के लिए बबिता कपूर ने छोड़ा था अपना करियर, कुछ ऐसी रही करिश्मा-करीना की मां की लाइफ

पति के लिए बबिता कपूर ने छोड़ा था अपना करियर, कुछ ऐसी रही करिश्मा-करीना की मां की लाइफ

गुजरे जमाने की मशहूर अदाकारा और कपूर खानदान की बहू बबीता कपूर का जन्म 20 अप्रैल 1948 को पाकिस्तान के कराची में हुआ था। हाल ही में बबिता ने अपना 74वां जन्मदिन सेलिब्रेट किया जिसमें बॉलीवुड दुनिया से जुड़े तमाम सितारे और उनकी बेटी करीना कपूर और करिश्मा कपूर शामिल हुई। इस दौरान करीना कपूर रेड ड्रेस पहने हुए बेहद ही खूबसूरत लग रही थी। वह अपने पति सैफ अली खान के साथ पैपराजी के सामने भी नजर आई। इसके अलावा करिश्मा कपूर अपनी बेटी समायरा के साथ स्पॉट की गई और बर्थडे पार्टी में शामिल हुई।

babita kapoor

बता दे करिश्मा और करीना की मां बबीता कपूर की जिंदगी किसी फिल्म से कम नहीं है। फिल्मी दुनिया के सबसे बड़े खानदान ‘कपूर परिवार’ में शादी करने के बाद भी बबीता कपूर को कई संघर्षों का सामना करना पड़ा। इतना ही नहीं बल्कि दोनों बेटियों का करियर बनाने के लिए बबीता काफी मुश्किलों से गुजरी। आइए जानते हैं बबिता कपूर के जीवन से जुड़ी कुछ अनसुनी बातें..

babita kapoor

इस फिल्म से बबिता ने की थी करियर की शुरुआत

बता दें, बबीता कपूर ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत फिल्म ‘राज’ से की थी। इस फिल्म में उनके साथ जाने माने अभिनेता राजेश खन्ना अहम किरदार में नजर आए थे। इसके बाद उन्होंने अपने करियर में ‘दस लाख’ ‘हसीना मान जाएगी’, ‘जीत’, ‘डोली’ और ‘एक हसीना दो दीवाने’ जैसी कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया।

babita kapoor

प्यार के खातिर छोड़ दी थी फ़िल्मी दुनिया

बता दे बबीता कपूर ने साल 1971 में राज कपूर के बड़े बेटे रणबीर कपूर के साथ शादी रचाई। ऐसे में उन्होंने अपनी फिल्मी दुनिया छोड़ दी और वह घर परिवार में व्यस्त हो गई। दरअसल, कपूर खानदान में महिलाओं को शादी करने के बाद फिल्मों में काम करने की अनुमति नहीं थी। ऐसे में बबीता ने अपने परिवार के खातिर अपने फिल्मी करियर को छोड़ दिया। लेकिन शादी के बाद रणधीर का करियर भी फ्लॉप होने लगा। ऐसे में हुआ बुरी आदतों के आदी हो गए।

babita kapoor

babita kapoor

कहा तो ये भी जाता था कि, उन्होंने करीना और करिश्मा को भी फिल्म इंडस्ट्री में काम करने से इंकार कर दिया था। हालांकि बबीता कपूर इस दौरान अपनी दोनों बेटियों की ढाल बनकर खड़ी रही। और उन्होंने अपने पति से अलग होकर करिश्मा और करीना का पालन पोषण किया। इतना ही नहीं बल्कि उन्होंने इंडस्ट्री में भी दोनों बेटियों को काम करने के लिए प्रेरित किया।

babita kapoor

अलग होने के बाद भी नहीं लिया तलाक

रणधीर और बबीता साल 1988 में अलग हो गए थें। इसके बाद बबीता ने ही नौकरी कर करिश्मा और छोटी बेटी करीना की परवरिश की। हालांकि, साल 2007 में दोबारा बबीता और रणधीर एक हो गए। वहीं करीना और करिश्मा भी आज फिल्म इंडस्ट्री का बड़ा नाम है।

babita kapoor

pinal

Leave a Reply

Your email address will not be published.