चीटियों ने धुंधी बिहार में सोने की खान, खोजने पर निकली भारत की. सबसे बड़ी खान

चीटियों ने धुंधी बिहार में सोने की खान, खोजने पर निकली भारत की. सबसे बड़ी खान

देश का सबसे बड़ा सोने का भंडार बिहार में पाया गया है केंद्र सरकार ने इस बात की पुष्टि की है. केंद्र सरकार के अनुसार बिहार के जलाल मटिया और कर मटिया में देश के लगभग 44 परसेंट स्वर्ण भंडार है.इस बात की जानकारी कुछ समय पहले खनन मंत्री प्रभात जोशी ने केंद्र सरकार को दी है.

इसके बाद यह बिल्कुल साफ हो गया कि जो भी हार नक्सलियों की बंदूकें और बारूद करता था अब वह सोना उगलेगा.लेकिन इस सारे मामले में सबसे हैरान कर देने वाली बात तो यह है कि बिहार में जो सोने का भंडार पाया गया है.

उसका पता किसी भी अज्ञान इतने नहीं बल्कि चीटियों ने लगाया है. हालांकि यह एक अलग बात है कि इस बात की पुष्टि करने के लिए पूरे 40 साल का समय लग गया. 40 साल बाद जाकर सरकार ने इस बात की जानकारी दी कि बिहार में देश का 44 परसेंट सोने का भंडार है.विश्वसनीय सूत्रों के अनुसार कि इतने बड़े सोने के भंडार का पता कैसे लगाया गया इस बात की जांच पड़ताल की गई तो पता चला स्थानीय लोगों ने जो जानकारी दी उससे पता चला.

की पहली बार यहां पर सोने का भंडार है इस बात का संकेत चीटियों ने दिया था. बता दे करीब 40 साल पहले चौराहे पर बुजुर्ग लोग धूप से बचाव करने के लिए इकट्ठा हुआ करते थे क्योंकि वहां पर एक काफी बड़ा बरगद का पेड़ हुआ करता था. इसी दौरान वहां पर चीटियां अपना एक घर तैयार करने में लगी हुई थी.

लेकिन चीटियां अपना घर बनाने के लिए जो मिट्टी बाहर निकाल रही थी उस मिट्टी में कुछ चमकीले कण दिखाई दे रहे थे. जब वहां बैठे कुछ लोगों की नजर इस पर पड़ी की मिट्टी में है पीली चमक कैसे दिखाई दे रही है तो इसके बारे में बातें बनना शुरू हो गई. धीरे-धीरे यह बात प्रशासन तक पहुंच गई.फिर बात खनन विभाग तक पहुंची इसके बाद जो हुआ वह सब तो आपके सामने ही हैं.

सबसे पहले सन 1982 से लेकर सन 1986 तक इस क्षेत्र को प्रतिबंधित क्षेत्र घोषित कर दिया गया जहां पर वह सोने के कण मिले थे. लेकिन तब यह कहा गया था कि जितना यहां पर खर्च होगा उतना यहां सोना नहीं मिलेगा. जानकारी के अनुसार बता दे कि यहां पर आखरी बार खुदाई सन 2020 में की गई थी. और तभी खनन विभाग ने यहां से कुछ सैंपल उठाकर जांच के लिए भेजे गए.

जिसके बाद रिपोर्ट के आधार पर यह निष्कर्ष निकाला गया कि यहां पर देश का सबसे बड़ा सोने का भंडार है. बता दे इसके बाद इस गांव का नाम करमटिया से बदलकर सोनमटिया हो गया. बता दे इसी के कारण अब यह गांव खूब सुर्खियों का हिस्सा बना हुआ है.

इसी के साथ लोगों का यह भी कहना है कि देश में इतने बड़े स्वर्ण भंडार की जानकारी हमें उन चीटियों ने दिया जिनको हम अपने पैरों के नीचे कुचल देते हैं. लेकिन हमें यह भी समझना चाहिए कि संसार में जितने भी जीव जंतु है उन सब में अपने अलग गुण होते हैं. हमेशा जीव जंतु ने मनुष्य प्रजाति को कुछ ना कुछ दिया ही है. इसलिए हर प्राणी को महत्व देना चाहिए

pinal

Leave a Reply

Your email address will not be published.