एक ही घर में पत्‍नी और प्रेमिका संग 12 साल से लिव इन में रह रहा है शख्‍स, अब रचाएगा दूसरा विवाह

गुजरात के आदिवासी समाज का एक शख्‍स एक ही घर में अपनी पत्‍नी और 12 साल से प्रेमिका संग लिव इन रिलेशन में रह रहा है। इसके दोनों महिलाओं से दो-दो बच्चे हैं। अब इस व्‍यक्ति ने प्रेमिका से भी शादी करने का फैसला किया है।

गुजरात के एक आदिवासी शख्‍स के विवाह को लेकर खासे चर्चे हैं, अपने साथ रह रही दो युवतियों से उसके दो-दो बच्चे हैं। एक पत्नी है जबकि दूसरी के साथ वह 12 साल से लिव इन रिलेशन में है। प्रेमिका से 9 मई को विवाह करेगा लेकिन निमंत्रण पत्रिका में पत्नी का भी नाम लिखवा दिया।

वलसाड जिले के कपराडा कस्बे के गावितफलिया गांव के प्रकाश गामित का विवाह 14 साल पहले कुसुम के साथ हो गया था। करीब 12 साल से नयना नामक महिला भी उसी घर में प्रकाश के साथ लिव इन रिलेशन में रह रही है। दोनों से दो-दो बच्चे हैं, आगामी 9 मई को प्रकाश समाज के रीति रिवाज के अनुसार नयना से विवाह करने वाला है

लेकिन निमंत्रण पत्रिका में कुसुम का नाम भी लिखा दिया ताकि पहली पत्नी को बुरा नहीं लगे। इस परिवार में कोई विवाद नहीं है, पहली पत्नी भी इस विवाह समारोह से खुश है तथा नयना को भी कुसुम से कोई शिकायत नहीं है। यह विवाह समारोह अपने आप में इसलिए भी अनूठा होगा कि एक युवक के विवाह समारोह में उसकी पत्नी व 4 बच्चे भी शामिल होंगे, मजे की बात यह है कि इनमें से दो बच्चे दुल्हन [ लिव इन पार्टनर] से हैं।

मध्‍य प्रदेश के अलीराजपुर में भी सामने आया ऐसा ही मामला

आदिवासी समाज की कई परंपराएं अनूठी है। अभी हाल ही में मध्‍य प्रदेश के अलीराजपुर से भी एक ऐसा ही मामला सामने आया था। अलीराजपुर में आने वाला एक शख्‍स बीते 15 साल से एक ही घर में अपनी तीन प्रेमिकाओं के साथ लिव इन में रह रहा था। अब उसने तीनों से एक ही मंडप में विवाह रचाया है।

इनके छह बच्‍चे भी हैं। इनके बच्‍चों ने भी इस शादी समारोह का जमकर लुत्‍फ उठाया और खूब डांस किया। बता दें कि आदिवासी समाज में यदि युवा एक-दूसरे को पसंद करते हैं तो उन्‍हें साथ में रहने की पूरी आजादी होती है। इसके लिए विवाह बंधन भी जरूरी नहीं है।

 


Posted

in

by

Tags: