भारतीय क्रिकेट के 5 खिलाडी जिन्होंने गरीबी की दिवार तोड़कर हासिल की कामयाबी, आज करते है करोड़ो की कमाई

आज के समय में हर भारतीय क्रिकेटर के पास करोड़ो की गाड़िया, एक से एक लक्ज़री घर है और ढेर सारा पैसा है। लेकिन एक वक्त था, जब इनमे से कुछ खिलाडियों के पास अपना खुद का बैट खरीदने तक के पैसे नहीं होते है।

लेकिन इन्होने मेहनत की, और उसके दम पर टीम इण्डिया में डेब्यू किया और देखते ही देखते ये खिलाडी करोड़ो के मालिक बन गये। इसी के चलते आज हम आपको 5 ऐसे भारतीय खिलाडियों के बारे में आपको बताने वाले है, जिनकी पहले आर्थिक स्थिति बहुत ख़राब थी, लेकिन टीम इण्डिया में चयन होने के बाद इनकी जिन्दगी पूरी तरह ही बदल गई।

1.उमेश यादव:-

आज जब भी दुनिया के सबसे तेज गेंदबाजों की बात की जाती है, तो उसमे उमेश यादव का नाम जरुर आता है। कहा जाता है की उमेश यादव के पिता जी कोल माईन में काम किया करते थे, और तब जाकर अपने परिवार का खर्च चला पाते थे। लेकिन आज उमेश यादव करोड़ो के मालिक है।

2.जहिर खान:-

कहा जाता है की जहिर खान अपनी एक आंटी के साथ रहते थे, उनके साथ वो एक हॉस्पिटल के छोटे से कमरे में रहते है, जिसमे सोने के लिए बेड आदि तक नहीं था। इसके बाद इन्होने नौकरी भी की। लेकिन ये बचपन से ही एक क्रिकेटर बनना चाहते थे, सो इन्होने कड़ी मेहनत के दम पर साल 2000 में नेशनल टीम में खेलकर अपने इस सपने को पूरा किया। और आज ये भी करोड़ो के मालिक है।

3.हरभजन सिंह:-

हरभजन सिंह, भारतीय क्रिकेट टीम के वो पूर्व स्पिन गेंदबाज है जिन्होंने अपनी फिरकी गेंद से हमेशा बल्लेबाजो के पसीने छुडाये है। कहा जाता है की इन्होने 1998 में इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू कर लिया था, लेकिन पहली सीरीज खेलने के बाद ये लगभग तीन साल टीम इण्डिया से बाहर रहे। जिससे ये काफी परेशान हो गये, इन्होने कनाडा जाकर टेक्सी चलाने का प्लान भी बना लिया था। लेकिन जब किस्मत ने साथ दिया, तो साल 2001 में इनकी टीम में वापसी हो गई थी।

4.रविन्द्र जडेजा:-

रविन्द्र जडेजा, आज भारतीय क्रिकेट टीम के उभरते हुए स्टार आलराउंडर खिलाडी है। इन्होने हाल ही के कुछ दिनों में अपने कमाल के प्रदर्शन से सभी ध्यान अपनी और खीचा है। लेकिन एक वक्त था जब इनके पिता जी एक प्राइवेट कम्पनी में वाचमैन का काम करके मुश्किल से अपने घर का खर्चा चलाते थे। लेकिन जडेजा ने कड़ी मेहनत की और टीम इण्डिया में सिलेक्शन लिया।

5.वीरेंद्र सहवाग:-

वीरेंद्र सहवाग का नाम भारत ही नहीं बल्कि दुनिया में भी महान खिलाडियों की लिस्ट में शुमार है। इनके नाम टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक और वनडे क्रिकेट में दुहरा शतक जैसे कई अकल्पनीय रिकॉर्ड है। लेकिन कहा जाता है की वीरेंद्र सहवाग की 50 लोगो की जॉइंट फॅमिली थी, और इनके पिता जी गेहू के व्यपारी थे। और इन 50 लोगो के रहने के लिए केवल एक ही घर हुआ करता था। वही जब ये क्रिकेट की प्रैक्टिस करने के लिए जाते थे, तो लगभग 84 किलोमीटर का सफर तय करना पड़ता था।


Posted

in

by

Tags:

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *